top of page

श्री वरकाना पाश्र्वनाथ तीर्थ पर फागण पुनम की यात्रालाभार्थी रानीगांव निवासी मातुश्री धनवंतीबाई तिलोकचंदजी मुठलिया परिवार

वरकाणा। गोडवाड की पंचतिर्थी का मुख्य तीर्थ एवं गोडवाड की राजधानी श्री वरकाणा बावन जिनालय जैन तीर्थ की पावन धरा पर फागण पुनम की यात्रा आजीवन कायमी पुनम के लाभार्थी रानीगांव-मुंबई निवासी श्रीमती धनवंतीबाई तिलोकचंदजी मुठलिया परिवार के सौजन्य से संपन्न हुआ। इस अवसर पर श्री पाश्र्वनाथ तीर्थ वरकाणा के ट्रस्टी विमलचंद सालेचा द्वारा प्रेरित पाली निवासी संघवी महेन्द्रकुमार मेहता परिवार द्वारा दो बसों से यात्री वरकाणा दर्शनार्थ पधारे।


लाभार्थी परिवार द्वारा आये हुए सभी दर्शनार्थीयों का ५० रूपये का संघ पूजन कर अभिनंदन किया गया। इस अवसर पर वरकाणा तीर्थ के ट्रस्टी अशोककुमार तापडिया, छगनलाल छाजेड, विमलचंद सालेचा, दिपचंद मुणोत, मुकेश मेहता, रानी गांव जैन संघ के अध्यक्ष महेन्द्रकुमार धनरेशा, पूर्व सचिव जुगराज पुनमिया, रानी स्टेशन जैन संघ के अध्यक्ष वरिष्ठ समाजवेसी नवरतनमल मेहता एवं लाभार्थी परिवार के रविन्द्रकुमार मुठलिया, श्रीमती बबिता मुठलिया, कुमारी अंकिता एवं आयुषी मुठलिया सहित कई गणमान्य उपस्थित थे। श्री वरकाणा तीर्थ ट्रस्ट द्वारा लाभार्थी परिवार का साफा, माला, शाल एवं चुनड़ी द्वारा बहुमान किया गया।  महेन्द्रकुमार धनरेशा द्वारा सभी यात्रीयों को रुमाल की प्रभावना दी गई।

6 views0 comments

Comments


bottom of page